ताइवान यूनिवर्सिटी का एक्यूरेट संस्थान दौरा

कोशिओंग यूनिवर्सिटी ऑफ़ एप्लाइड साइंस , ताइवान के अधिकारीयों ने ग्रेटर नॉएडा के नॉलेज पार्क 3  स्थित एक्यूरेट संस्थान का दौरा किया ।  यह दौरा ताइवान की यूनिवर्सिटी ने भारतीय छात्रों के आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत किया । ईद दौरान संस्थान के बी टेक कोर्स के छात्र ताइवान की कोशिओंग यूनिवर्सिटी में जाकर 3 महीने की शिक्षा ग्रहण करेंगे जिसके उपरांत छात्र ताइवान या भारत कहीं भी अपना कार्यक्षेत्र चुन सकेंगे । आने वाले अधिकारीयों में ते हुआ फांग, चेयर प्रोफेसर एवं डिप्टी वाईस प्रेजिडेंट फॉर रिसर्च एंड डेवलपमेंट, एवं लिरेन त्साई, एसोसिएट प्रोफेसर एंड डायरेक्टर ऑफ़ नई साउथ बाउंड एजुकेशन सेंटर मुख्या अतिथि रहे ।

इस आयोजन को देश विदेश की जानी मानी एल्सिना कंपनी ने प्रायोजित किया है जो देश के अग्रणी संस्थानों को विदेश की यूनिवर्सिटी एवं कॉर्पोरेट के लिए प्रमुख रूप से जानी जाती है । इस आयोजन के सफलता पूर्वक नियोजन एवं कार्यान्वयन से भारतीय इंजीनियर छात्रों को ताइवान जैसे तकनिकी रूप से उन्नत देश में नौकरी करने का अवसर प्राप्त होगा ।  

ताइवान अधिकारीयों के अनुसार भारतीय छात्र ज्ञान एवं विज्ञानं में अन्य देशों की तुलना में कहीं अधिक परिपक्व होते हैं और वे सही तरह से अपने कार्यों को अंजाम देते हैं ।  यूनिवर्सिटी के वाईस प्रेजिडेंट ते हुआ फांग के अनुसार भारतीय तकनिकी संस्थानों के साथ ताइवानी छात्रों का समन्वय अच्छे उदहारण प्रस्तुत करेगा और उन्हें इस समन्वय से विकास की दिशा में अच्छी उम्मीदें हैं ।

यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर  लिरेन त्साई ने बताया की शिक्षा के क्षेत्र में अव्वल छात्रों को ताइवान यूनिवर्सिटी अपना पूर्ण सहयोग देगी और उनकी हर तरह से मदद करेगी और उनके शिक्षा प्राप्त करने के उपरांत उन्हें ताइवान में करियर बनाने की पूर्ण सुविधा प्रदान करेगी ।  संस्थान के इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख श्री अनुराग  मलिक ने तकनिकी छात्रों के लिए इस प्रयास को स्वर्णिम अवसर बताया और अपने छात्रों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने छात्रों से ताइवान में अच्छे से अच्छा प्रदर्शन करने के लिए आग्रह किया ।

संस्थान के एडमिशन डायरेक्टर डॉ. संदीप शर्मा ने संस्थान के इस तरह के प्रयासों की सराहना की को इन्हें संस्थान की उन्नति में योगदान बताया । संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने विभाग के सभी सदस्यों को उनके प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया और उन्हें आगे भी इस तरह के सकारात्मक प्रयासों के लिए प्रेरित किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *