एक्यूरेट में राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया गया

भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल के जनम दिवस पर राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जाता है । इसकी शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 2014 से की गयी थी । भारत के मानक संसाधन एवं विकास के अंतर्गत आने वाली संस्था ए आई सी टी इ के प्रावधान में भारत सरकार की ओर से सभी शिक्षण संस्तान में इस दिवस को सार्वजानिक रूप से मनाने का निर्णय लिया गया ।

एक्यूरेट समूह के पी जी डी एम् के छात्रों ने इस दिवस पर सार्वजानिक रूप से राष्ट्र की एकता एवं अखंडता की शपथ ली और संस्मरण स्वरुप एकता दौड़ में हिस्सा लिया । यह पूर्ण रूप से सर्वविदित है की लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश की एकता के लिए भरसक प्रयत्न किये जिनके फलस्वरूप ही भारत का अखंड रूप विश्व के सामने मुखर हुआ ।

देश के अलग थलग बनते हुए राज्यों को एक सूत्र में पिरोने का काम लौह पुरुष के जीवन का उद्देश्य था । सरदार पटेल जानते थे की विश्व की लालची आँखें भारत की धरती पर सदा से ही रही हैं और भारत देश के नक़्शे पर बना नहीं रह सकता अगर वो एकता के सूत्र में नहीं बंधा हो । उनके कूटनीतिक एवं राजनितिक प्रयासों के चलते ही भारत का वर्तमान रूप विश्व के सस्मने हैं । आज भारत को विश्व एक बड़ी शक्ति के रूप में देखता है इसका श्रेय मूल रूप से सरदार पटेल को जाता ही है ।

संस्थान के डायरेक्टर डॉ. संजीव चतुर्वेदी ने सभी छात्रों को राष्ट्रीय एकता एवं अखंडता की शपथ दिलाई और उन्हें भारतीय ध्वज देकर एकता दौड़ के लिए अग्रसर किया । दौड़ के समापन पर उन्होंने सभी को बधाई दी। एक्यूरेट संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने सभी छात्रों का उत्साहवर्धन किया और आयोजकों को उनके प्रयास के लिए शुभकामनायें दी ।

National Competition for Budding Manager


Accurate Students participated in 2nd National Competition for Budding Manager organized by PHD Chamber New Delhi, sponsored by Reliance and Other Industry. Function was honored by the presence of Mr Manoj Tiwari , President (New Delhi, BJP Party). Topic of the program was “Role of Education and Skill in development of tourism and hospitality industry.”

Naya bharat Yuva Bharat LIVE @ Accurate Institute


On the occasion of 125th years of Swami Vivekanand’s Speech in Chicago, PM Narendra Modi addressed the nation. it was promoted by AICTE and UGC that academic instituitions must listen to the message and learn from it. Accurate made arrangements to listen the message in classrooms. faculty and staff listen the message collectively.

Sports Day 24th August 2017

“The moment of victory is much too short to live for that and nothing else”
Apart from commemorating victory, sports meet also aim at imparting lessons on sportsman spirit and camaraderie to students.
Accurate Institute of Management and Technology had organized “Sports Day” on 24th August 2017, at the campus ground upholding this spirit of sporting events.

The games were arranged by Mr. Kumar Rakesh & Dr. Gautam (Boys, Cricket), Mr. Faiz Siddiqqe & Rajneesh Khare (Boys, Badminton), Dr. Vivek Srivastava (Boys, Carom & Chess), Mrs. Neha Kalra & Mrs. Pratibha Goswami (Girls, Badminton, Carom & Chess).


The first semester students actively participated in all the activities and encompassed great enthusiastic picture on everyone concerned. This Sports Day not only taught discipline to all the students but another aspect of management viz planning, organizing, leading and controlling were also being analyzed in due coursed of these sports activities.

एक्यूरेट छात्रों का याकुल्ट भ्रमण

नॉलेज पार्क ३ स्थित एक्यूरेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी के पी जी डी एम् कोर्स के छात्रों ने सोनीपत के एच इस डी आई सी के फ़ूड पार्क में स्थित याकुल्ट इंडस्ट्री का भ्रमण किया ।  देश में याकुल्ट कम्पनी का यह एकमात्र प्लांट है । याकुल्ट एक जापानी कम्पनी है जिसने फ्रांस की दानोंन कम्पनी के साथ मिलकर इस प्लांट का निर्माण किया है । दस लाख बोतल प्रतिदिन बनाने की क्षमता रखने वाला वाला प्लांट पूरे देश के लिए प्रोबायोटिक दूध का निर्माण करता है  ।

आजकल प्रचलित एंटीबायोटिक और भिन्न प्रकार की दवाओं और व्यस्त जीवनशैली की वजह से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता घाट गयी है । मनुष्य की आंत में पाए जाने वाले गुणकारी जीवाणु एवं हानिकारक जीवाणु का संतुलन ही हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए जिम्मेदार है । प्रोबायोटिक दूध 6.5 अरब गुणकारी जीवाणुओं को हमारे शरीर में दूध के माध्यम से प्रवेश करता है और हमारी अच्छी सेहत को बनाये रखता है ।  प्रोबायोटिक दूध मनुष्य की रोग प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाता है । याकुल्ट कम्पनी ने बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी को अपने उत्पाद को प्रचार करने के लिए ब्रांड एम्बेसडर नियुक्त किया है ।

संस्थान का मैनेजमेंट विभाग छात्रों को निरंतर नयी नयी इंडस्ट्री में भेजता रहता है जिससे छात्र उधोग जगत की बारीकियों को समझ सकें और उसे अपने कार्यक्षेत्र में उपयोग कर सकें । आजकल कंपनियां भी उन्हीं मैनेजमेंट छात्रों का चयन करती हैं जिनके पास ज्यादा से ज्यादा उधोग जगत की जानकारी हो । छात्रों ने याकुल्ट मैनेजर से तरह तरह के प्रश्न पूछे जिनका श्री आदित्य कुमार ने पूरा पूरा जवाब दिया । छात्र ज्यादा से ज्यादा उत्पाद की गुणवत्ता और इसके प्रतिस्पर्धी उत्पादों को जानने में उत्सुक थे। कई छात्रों ने इस क्षेत्र में करियर की संभावनाओं को लेकर भी प्रश्न किये जिस पर श्री आदित्य ने बताया की याकुल्ट बिज़नेस दिन प्रतिदिन तरक्की पर है और इस कम्पनी में जॉब के अच्छे अवसर हैं  ।

ऑपरेशन मैनेजमेंट के प्रोफेसर श्री हरीश कुमार ने छात्रों से कम्पनी से जुड़े विषयों पर चर्चा की और उनके फायदे गिनाये । संस्थान वापसी पर संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने छात्रों से भ्रमण एवं इसकी उपयोगिता पर प्रश्न किये और उन्हें बादहै दी और कहा की आगे भी इस तरह के अवसर छात्रों को उपलब्ध कराये जायेंगे ।

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कार्यक्रम

नॉलेज पार्क 3 के एक्यूरेट इंस्टिट्यूट में 70  वे स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ । सारा माहौल देशभक्ति के रंग में सराबोर हो गया । पी जी डी एम् कोर्स के प्रथम वर्ष के छात्रों द्वारा आयोजित पूर्व संध्या कार्यक्रम में भारत के शहीदों को याद किया गया । इस अवसर पर वाद विवाद प्रतियोगिता , रंगोली, गायन एवं नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । वाद विवाद प्रतियोगिता में रूपेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया । उनके जोशीले वक्तव्य से हर कोई प्रभावित हुआ उन्होंने वस्वतंत्रता संग्राम में नारी की भूमिका की चर्चा की और वर्तमान समय में भी नारी के योगदान का वर्णन किया । हर किसीने रूपेश की भूरी भूरी प्रशंशा की । रंगोली में सुष्मिता अव्वल रही उनके रंगों ने देश की सुन्दर छवि प्रदर्शित की । नृत्य में अंजू एवं गायन में उज्मा साहब प्रथम स्थान पर रही ।

संस्थान के पी जी पी प्रमुख श्री प्रदीप वर्मा ने अपनी कविता से श्रोताओं को उत्साहित किया और कहा की आज भी हम कहीं न कहीं गुलामी के प्रतीकों को देखते हैं , जब राष्ट्र मानसिक एवं भौतिक रूप से सक्षम हो जायेगा तब ही हम सच्चे अर्थों में आज़ाद होंगे ।  प्रोफेसर डॉ. पल्लवी सिंह ने ऐ मेरे वतन के लोगों गीत गाकर छात्रों का उत्साहवर्धन किया ।  प्रोफेसर हरीश कुमार ने छात्रों को सच्ची आज़ादी के बारे में बताया कि अभी भी आज़ादी को बचाये रखने की आवश्यकता है , उनके अनुसार अगर देश पूर्णरूप से आत्मनिर्भर रहेगा तब ही हम अपनी आज़ादी को दुसरे देशों के चंगुल से बचा सकेंगे  ।

डॉ. रजनी खोसला ने इस पूरे कार्यक्रम में मुख्या भूमिका निभाई , उनके नेतृत्व में छात्राओं ने सिमित अवधि के भीतर ही कार्यक्रम को मूर्तरूप दिया और पूरी तरह सफल बनाया । उन्होंने आज़ादी के 70  साल पूरे होने पर सभी को बधाई दी और आज़ादी के नेताओं से शिक्षा लेने का अनुरोध किया । एडमिशन डायरेक्टर डॉ. संदीप शर्मा ने देशभक्ति से ओतप्रोत शेरो शायरी से सभी का मन मोह लिया उन्होंने अपने शेरों से सभी को आनंदित और प्रेरित किया ।  संस्थान कि समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने कार्यक्रम के सभी आयोजकों का धन्यवाद किया और छात्रों को देशभक्ति की शमा जलाये रखने का आह्वाहन किया  ।

एक्यूरेट मे स्वतन्त्रता दिवस पर क्विज व वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन

छात्र सहीदों के बलिदान का मूल्य समझें- पूनम शर्मा

मानव संसाधन मंत्रालय के निर्देशानुसार एक्यूरेट इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नालजी प्लॉट संख्या ४९ नॉलेज पार्क ३ ग्रेटर नोएडा (यू पी),मे स्वतन्त्रता दिवस के उपलक्ष मे 9 अगस्त से 15 अगस्त तक विभिन्न देशभक्ति के कार्यकर्मों का आयोजन हो रहा है। दिनांक 9 व 10 अगस्त को आज़ादी की लड़ाई पर आधारित प्रश्नो की एक क्विज प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमे पी जी डी एम के छत्र छात्राओं के साथ साथ प्राध्यापक व अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया। क्विज का संचालन क्विज मास्टर रिपुदमन गौड़ ने किया। उसके बाद स्वतन्त्रता पर आधारित विभिन्न मुद्दो पर वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया जिसमे छत्र-छात्राओं ने अपने विचारो को प्रभावी रूप से प्रस्तुत किया। एक्यूरेट की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने कहा कि जिस देश में चंद्रशेखर आजाद ,भगत सिंह, राजगुरू, सुभाष चन्द्र, खुदिराम बोस, रामप्रसाद बिस्मिल जैसे क्रान्तिकारी तथा गाँधी, कलाम जैसे देशभकत रहे हो उस देश को गुलाम कैसे रखा जा सकता है ।देशभक्तों के अति महत्वपूर्ण योगदान से 14 अगस्त की अर्धरात्री को अंग्रेजों के उत्पीड़न एवं अत्याचार से हमें आजादी प्राप्त हुई थी। ये आजादी अमूल्य है क्योंकि इस आजादी में हमारे असंख्य पूर्वजों का संघर्ष, त्याग तथा बलिदान समाहित है।

ये आजादी हमें उपहार में नही मिली है। वंदे मातरम् और इंकलाब जिंदाबाद की गर्जना करते हुए अनेक वीर देशभक्त फांसी के फंदे पर झूल गए। 13 अप्रैल 1919 को जलियाँवाला हत्याकांड, वो रक्त रंजित भूमि आज भी देश-भक्त नर-नारियों के बलिदान की गवाही दे रही है। सुश्री पूनम शर्मा ने छत्रों से आव्हान किया की पूर्वजो द्वारा दिलाई गई आजादी का मूल्य समझे। समाज के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी समझे तभी हम अपने पूर्वजो की आत्मा को सच्ची श्रद्धांजलि दे सकते है। उन्होने सभी छत्रों से आज़ादी शब्द को अपने भाव से व्यक्त करने को कहा जिसमे समाज से जुड़े कई मुद्दो पर छत्र व छात्राओं ने अपने भाव व्यक्त किए। मुख्य रूप से हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई एकता भाव। महिलाओ की सुरक्षा व इज्ज़त तथा भ्रष्टाचार जैसे मुद्दो पर छात्रों ने अपने विचार प्रस्तुत किए एक्यूरेट इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नालजी के महानिदेशक डा सरोज कुमार दत्ता व कार्यकारी निदेशक डा राजीव भारद्वाज ने छात्रों को विभिन्न क्रांतकारियों के बारे मे व उनके योगदान को बताया। उन्होने कहा कि आज़ादी के साथ बहुत सारी जिम्मेदारियाँ भी होती है। हम स्वतन्त्रता के उत्सव पर उन जिम्मेदारियों को भूल जाते है। देश के प्रति,समाज के प्रति व परिवार के प्रति हम अपनी जिम्मेदारियों को समझे व उनका निर्वहन करें।
आगामी दिवसो का कार्यक्रम निम्नवत रहेगा-
12 अगस्त – स्वतन्त्रता पर आधारित रंगोली व काला प्रतियोगिता
13 अगस्त- स्पोर्ट्स व सांस्कृतिक कार्यक्रम
14 अगस्त- स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कार्यक्रम
15 अगस्त- ध्वजारोहण व स्वतन्त्रता दिवस दौड़