एक्यूरेट में राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया गया

भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल के जनम दिवस पर राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जाता है । इसकी शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 2014 से की गयी थी । भारत के मानक संसाधन एवं विकास के अंतर्गत आने वाली संस्था ए आई सी टी इ के प्रावधान में भारत सरकार की ओर से सभी शिक्षण संस्तान में इस दिवस को सार्वजानिक रूप से मनाने का निर्णय लिया गया ।

एक्यूरेट समूह के पी जी डी एम् के छात्रों ने इस दिवस पर सार्वजानिक रूप से राष्ट्र की एकता एवं अखंडता की शपथ ली और संस्मरण स्वरुप एकता दौड़ में हिस्सा लिया । यह पूर्ण रूप से सर्वविदित है की लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश की एकता के लिए भरसक प्रयत्न किये जिनके फलस्वरूप ही भारत का अखंड रूप विश्व के सामने मुखर हुआ ।

देश के अलग थलग बनते हुए राज्यों को एक सूत्र में पिरोने का काम लौह पुरुष के जीवन का उद्देश्य था । सरदार पटेल जानते थे की विश्व की लालची आँखें भारत की धरती पर सदा से ही रही हैं और भारत देश के नक़्शे पर बना नहीं रह सकता अगर वो एकता के सूत्र में नहीं बंधा हो । उनके कूटनीतिक एवं राजनितिक प्रयासों के चलते ही भारत का वर्तमान रूप विश्व के सस्मने हैं । आज भारत को विश्व एक बड़ी शक्ति के रूप में देखता है इसका श्रेय मूल रूप से सरदार पटेल को जाता ही है ।

संस्थान के डायरेक्टर डॉ. संजीव चतुर्वेदी ने सभी छात्रों को राष्ट्रीय एकता एवं अखंडता की शपथ दिलाई और उन्हें भारतीय ध्वज देकर एकता दौड़ के लिए अग्रसर किया । दौड़ के समापन पर उन्होंने सभी को बधाई दी। एक्यूरेट संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने सभी छात्रों का उत्साहवर्धन किया और आयोजकों को उनके प्रयास के लिए शुभकामनायें दी ।

Students at Accurate institute watched live the Prime Minister Narendra Modi

The students at Accurate institute watched live the Prime Minister Narendra Modi address to the students across the nation from Vigyan Bhawan in New Delhi on Monday11 September 2017. Speaking at the event, Prime Minister Narendra Modi stressed on his Swachh Bharat Abhiyaan. Addressing the event, PM Modi said that Indians do not have the right to chant Vande Mataram if they go on to spit pan and throw garbage on roads. He further added that those who clean the roads and surroundings have the first right in the country

Talent Hunt

Talent Hunt was organized for MBA students by Accurate Institute on the second half of 5th September 2017. The objective of this event was to bring out the hidden talents amongst the students. The student came out like blooming buds. Their Hidden talent included Poetry Recitation, Speech delivery, dance performance, Singing songs and Mimicry.

Teacher’s day Celebrations

The MBA student of Accurate Institute celebrated Teacher’s day on 5th of september2017, to commemorate the birth Anniversary of Dr. Sarvopalli Radha Krishnan. The celebration started with welcome speech by students of MBA followed by Motivational words by the Director Dr. A. Sajeevan Rao. The occasion was graced by all the faculty members. The students organized cultural events followed by musical chair for the faculty members for which the winner was Mr. Ram Niwas, the registrar of the institute. The students felicitated the each and every faculty members with a token of appreciation for the valuable contribution in their life.

Sports Day 24th August 2017

“The moment of victory is much too short to live for that and nothing else”
Apart from commemorating victory, sports meet also aim at imparting lessons on sportsman spirit and camaraderie to students.
Accurate Institute of Management and Technology had organized “Sports Day” on 24th August 2017, at the campus ground upholding this spirit of sporting events.

The games were arranged by Mr. Kumar Rakesh & Dr. Gautam (Boys, Cricket), Mr. Faiz Siddiqqe & Rajneesh Khare (Boys, Badminton), Dr. Vivek Srivastava (Boys, Carom & Chess), Mrs. Neha Kalra & Mrs. Pratibha Goswami (Girls, Badminton, Carom & Chess).


The first semester students actively participated in all the activities and encompassed great enthusiastic picture on everyone concerned. This Sports Day not only taught discipline to all the students but another aspect of management viz planning, organizing, leading and controlling were also being analyzed in due coursed of these sports activities.

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कार्यक्रम

नॉलेज पार्क 3 के एक्यूरेट इंस्टिट्यूट में 70  वे स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ । सारा माहौल देशभक्ति के रंग में सराबोर हो गया । पी जी डी एम् कोर्स के प्रथम वर्ष के छात्रों द्वारा आयोजित पूर्व संध्या कार्यक्रम में भारत के शहीदों को याद किया गया । इस अवसर पर वाद विवाद प्रतियोगिता , रंगोली, गायन एवं नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । वाद विवाद प्रतियोगिता में रूपेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया । उनके जोशीले वक्तव्य से हर कोई प्रभावित हुआ उन्होंने वस्वतंत्रता संग्राम में नारी की भूमिका की चर्चा की और वर्तमान समय में भी नारी के योगदान का वर्णन किया । हर किसीने रूपेश की भूरी भूरी प्रशंशा की । रंगोली में सुष्मिता अव्वल रही उनके रंगों ने देश की सुन्दर छवि प्रदर्शित की । नृत्य में अंजू एवं गायन में उज्मा साहब प्रथम स्थान पर रही ।

संस्थान के पी जी पी प्रमुख श्री प्रदीप वर्मा ने अपनी कविता से श्रोताओं को उत्साहित किया और कहा की आज भी हम कहीं न कहीं गुलामी के प्रतीकों को देखते हैं , जब राष्ट्र मानसिक एवं भौतिक रूप से सक्षम हो जायेगा तब ही हम सच्चे अर्थों में आज़ाद होंगे ।  प्रोफेसर डॉ. पल्लवी सिंह ने ऐ मेरे वतन के लोगों गीत गाकर छात्रों का उत्साहवर्धन किया ।  प्रोफेसर हरीश कुमार ने छात्रों को सच्ची आज़ादी के बारे में बताया कि अभी भी आज़ादी को बचाये रखने की आवश्यकता है , उनके अनुसार अगर देश पूर्णरूप से आत्मनिर्भर रहेगा तब ही हम अपनी आज़ादी को दुसरे देशों के चंगुल से बचा सकेंगे  ।

डॉ. रजनी खोसला ने इस पूरे कार्यक्रम में मुख्या भूमिका निभाई , उनके नेतृत्व में छात्राओं ने सिमित अवधि के भीतर ही कार्यक्रम को मूर्तरूप दिया और पूरी तरह सफल बनाया । उन्होंने आज़ादी के 70  साल पूरे होने पर सभी को बधाई दी और आज़ादी के नेताओं से शिक्षा लेने का अनुरोध किया । एडमिशन डायरेक्टर डॉ. संदीप शर्मा ने देशभक्ति से ओतप्रोत शेरो शायरी से सभी का मन मोह लिया उन्होंने अपने शेरों से सभी को आनंदित और प्रेरित किया ।  संस्थान कि समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने कार्यक्रम के सभी आयोजकों का धन्यवाद किया और छात्रों को देशभक्ति की शमा जलाये रखने का आह्वाहन किया  ।

एक्यूरेट में कोलाज प्रतियोगिता

नॉलेज पार्क ३ स्थित एक्यूरेट इंस्टिट्यूट के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के तत्वाधान में आधुनिक तकनिकी पर आधारित कोलाज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया. जिसमे पी जी डी एम के छात्र -छात्राओं ने विभिन्न तकनिकी मुद्दों को कोलाज के माध्यम से प्रदर्शित किया. कोलाज प्रतियोगिता का आकर्षण पे टीएम, क्लाउड कंप्यूटिंग व स्मार्ट स्कूल्स रहे.
एक्यूरेट की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने बताया कि कोलाज प्रतियोगिता के माद्यम से छात्र-छात्राएं में इनोवेटिव थिंकिंग को बढ़ावा देना है जिससे कि वो आने वाले समय में तकनिकी को बेहतर रूप से समझकर कुछ नया उत्पाद या उत्पादन कर सके. सुश्री पूनम शर्मा ने बताया कि विमुद्रीकरण के फैसले के बाद व्यावहारिक रूप से प्रोयोग में लेन वाली तकनिकी में भी बहुत बदलाव आया है. उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक बटुआ जैसे पे टी एम, व अन्य कैशलेस माध्यमो में हुए बदलाव आये है जिसकी वजह से देश का तकनिकी परिवेश एक नयी दिशा में जा रहा है और इस नयी दिशा को हमारे छात्र-छात्राओं ने कोलाज के माध्यम से काफी सरलता से समझाया है.
संस्था के कार्यकारी निदेशक डा राजीव भारद्वाज ने देश कि तरक्की में सूचना व प्रौद्योगिकी के महत्व को समझाया. उन्होंने कहा कि किसी भी सिस्टम के लिए सूचना उतनी ही महत्वपूर्ण होती है जितनी कि शरीर के लिए ऑक्सीजन. क्योंकि किसी भी कंपनी के सारे निर्णय कंपनी को मिलने वाली सूचना पर निर्भर करते है.
आई टी विभाग के अध्यक्ष व कोऑर्डिनेटर प्रोफ प्रदीप वर्मा ने बताया कि कोलाज प्रतियोगिता हमारा एक वार्षिक कार्यक्रम है जिसमे छात्र- छात्राएं अपनी कला का स्तेमाल करते हुए विभिन्न प्रकार कि तकनिकी को कोलाज के माध्यम से प्रदर्शित करते है. सभी कोलाज को विशेष रूप से संभाल कर रखा जाता है व उनकी एक प्रदर्शनी भी आयोजित कि जाती है.
कोलाज प्रतियोगिता के संयोजक प्रोफ हरीश कुमार ने बताया कि पी जी डी एम के छात्रों द्वारा स्मार्ट क्लासेज का कांसेप्ट जूरी मेंबर्स को बहुत पसंद आया और उसे प्रथम विजेता के रूप में चुना गया. दुसरे विजेता के रूप में पे टी एम के कोलाज को चुना गया जबकि सूचना तकनिकी के कोलाज को तीसरा स्थान मिला.
प्रोफ रिपुदमन गौड़, प्रोफ विनय झा व डा ए के मिश्रा को इस प्रतियोगिता के जज के रूप में आमंत्रित किया गया.

एक्यूरेट में इंटरनेशनल गेस्ट लेक्चर का आयोजन

नॉलेज पार्क ३ स्थित एक्यूरेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के तत्वाधान में ब्रांडिंग इन एरा ऑफ़ डिजिटलिज़शन विषय पर इंटरनेशनल गेस्ट लेक्चर का आयोजन किया गया. अमेरिका की एरिज़ोना यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर बंकिम पांडिया को गेस्ट लेक्चर के लिए आमंत्रित किया गया. संस्था की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने प्रोफेसर बंकिम का बुके देकर स्वागत किया.लेक्चर के समापन पर पी जी डी ऍम के छात्र- छात्राओं ने ब्रांडिंग विषय पर कई प्रश्न भी पूछे जिनका प्रोफ बंकिम ने बड़ी सरलता से जवाब दिया.
प्रोफ बंकिम ने बताया की ब्रांडिंग एक ऐसा विषय है जो नाकि सिर्फ उद्योग जगत व कमपनी के प्रोडक्ट के लिए आवश्यक है अपितु हर छेत्र में ब्रांडिंग की आवश्यकता है. उन्होंने डोनाल्ड ट्रम्प का उदाहरण देते हुए कहा कि चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने आप को एक ब्रांड के रूप में स्थापित किया. उन्होंने छात्र- छात्राओं को सुझाव दिया कि आप भी अपने आप को अपने एम्प्लायर के नज़रिये से एक ब्रांड के रूप में स्थापित कर सकते है. उन्होंने ब्रांड डेवलपमेंट के बारे में बताते हुए कहा कि वाइब ( VIBE ) वैल्यू , इमेज,ब्रांड एंड एम्पावरमेंट के प्रोसेस है जिसके जरिये ब्रांड को स्थापित किया जा सकता है.
उन्होंने कहा की हर प्रोडक्ट या पर्सन की एक वैल्यू होती है और ये वैल्यू एक इमेज के रूप में स्थापित होती है जिसकी वजह से ब्रांड बनता है और जब ब्रांड को दूसरो के द्वारा सराहा जाने लगता है तो वो एक एम्पॉवेरड़ ब्रांड बन जाता है.
इंटरनेशनल लेक्चर के बाद छात्र- छात्राओं ने काफी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि यह एक दुर्लभ मौका है जब ब्रांड जैसे विषय को हमने नए दृष्टिकोण से समझ है. संस्था के महानिदेशक डा सरोज कुमार दत्त ने प्रोफ बंकिम का धन्यवाद् देते हुए कहा कि प्रोफ बंकिम से अनुरोध है कि समय समय पर आकर छात्र छात्राओं का मार्ग दर्शन करते रहे.

एक्यूरेट में ५०० से ज्यादा छात्रों का पूल कैंपस

नॉलेज पार्क ३ स्थित एक्यूरेट संस्थान में बहुराष्ट्रीय कंपनी रेडिंगटन का पूल कैंपस आयोजित किया गया जिसमे करीब 20 कॉलेज व यूनिवर्सिटीज से ५०० से अधिक छात्र- छात्राओं ने भाग लिया.एक्यूरेट प्रांगण में आयोजित पूल कैंपस में भाग लेने वाले संस्थानों में मुख्या रूप से एमिटी यूनिवर्सिटी, आई एम एस-ग़ज़िआबाद व नॉएडा , आर्मी इंस्टिट्यूट, दून बिज़नस स्कूल देहरादून,आई ऍम ऍम नई देल्ही, ऐन आई आई एल ऍम. जे आर इ, शारदा विश्वविद्यालय ने भाग लिया
रेडिंगटन कंपनी के सीनियर वाईस प्रेसिडेंट (मानव संसाधन ) श्री जाबेज़ सेल्विन ने प्लेसमेंट से पहले सभी प्रतिभागी छात्र- छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज के पर्तिस्पर्धा के युग में ऐसे वर्कफोर्स की आवश्यकता है जो कि कंपनी की प्रगति में प्रतिभागी बन सके।रेडिंगटन कंपनी के बारे में बताते हुए श्री जाबेज़ ने कहा कि एक प्रिंटर में डील करने वाली रेडिंगटन कंपनी आज विश्व भर में सभी बड़े बड़े ब्रांड्स के साथ काम कर रही है एवम कंपनी का ग्राफ निरंतर ऊपर बढ़ता जा रहा है. कंपनी को मेहनती, लगनशील व धनात्मक सोच रखने वालो की आवश्यकता है. श्री जाबेज़ ने बताया कि सभी प्रतिभागी छात्र छात्राओं को पहले ग्रुप डिस्कशन में भाग लेना होगा उसके बाद पर्सनल इंटरव्यू लिया जायेगा, चयनित प्रतिभागियों को कल दिनांक ३० नवम्बर को सयकोमेट्रिक टेस्ट के लिए बुलाया जायेगा.
संस्था की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि कठिन परिश्रम व द्रण निश्चय प्रत्येक सफलता की कुंजी होती है। उन्होने कहा भारत युवाओं का देश है इस देश कि सबसी बड़ी ताकत युवाओ कि ऊर्जा है। इस ऊर्जा का सही इस्तेमाल देश व संस्था के निर्माण मे होना चाहिए । समूह निदेशिका ने कहा कि विश्व मे प्रतिस्पर्धा का दौर है इस दौर मे आपको हर वक़्त सचेत और गतिशील रहना होता है। सुश्री पूनम शर्मा ने छात्र-छात्राओं को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि प्रबंधन के छेत्र मे अपार संभावनाएँ है, अवसरो का बोध करना व उसका दोहन करना ही उचित प्रबंधकीय सोच होगी। सुश्री शर्मा ने अतिथि व छात्र-छात्राओं का स्वागत करते हुए कहा कि हम शिक्षा के क्षेत्र मे गुणवत्ता को लेकर काफी सजग है। शिक्षा कि गुणवत्ता के साथ कोई भी समझोता नहीं किया जाएगा। उन्होने कहा कि पिछले कई वर्षो से एक्यूरेट ने परीक्षा परिणाम व प्लेसमेंट को लेकर कई उपलब्धियां हासिल कि है। उन्होने बताया कि हम गत कई वर्षों से 100 प्रतिशत परीक्षा परिणाम प्राप्त कर रहे है तथा प्रत्येक छात्र को उसकी योग्यतानुसार उचित जॉब भी दिलाते रहे है।एक्यूरेट के इस मुकाम के लिए उन्होने सभी प्राध्यापको प्लेसमेंट विभाग व अनुसाशन विभाग को भी धन्यवाद प्रस्तुत किया।
एक्यूरेट संस्थान के प्लेसमेंट विभाग के अध्यक्ष श्री सतीश वर्मा ने बताया कि रेडिंगटन हर साल एक्यूरेट में पूल कैंपस का आयोजन करती है जिससे न सिर्फ एक्यूरेट के छात्र-छात्राएं अपितु देश के अन्य कॉलेज व विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं को अपना भविष्य चयन करने का सुनहरा अवसर मिलता है. श्री वर्मा ने बताया कि अभी तक करीब १५ कंपनिया कैंपस इंटरवेव के लिए आ चुकी है व करीब ५० कंपनियों के जॉब डिस्क्रिप्शन आ चुके है.
पूल कैंपस के लिए आये विभिन्न संस्थानों के प्रतिनिधि व विद्यार्थियों ने एक्यूरेट में आयोजित पूल कैंपस के लिए किये गए इंतज़ामों की सरहाना की.

एक्यूरेट मे एम बी ए का ओरिएंटशन

अपनी जिंदगी को अपने तरीके से जीना ही सफलता-करन वाही
दिनांक 23 अगस्त 2016 को नॉलेज पार्क 3 स्थित एक्यूरेट इंस्टीट्यूट के एम बी ए प्रोग्राम का ओरियंटशन किया गया जिसमे पूर्व क्रिकेटर व जाने माने अभिनेता करन वाही को मुख्य अथिति के रूप मे आमंत्रित किया गया। ओरियंटशन के पहले दिन देश के विभिन्न हिस्से से छात्र-छात्राओं ने रिपोर्ट किया। ओरियंटशन मे मुख्य अथिति करन वाही के साथ साथ संस्था की समूह निदेशिका पूनम शर्मा, निदेशक डा पी के पचौरी, निदेशक-प्रशासन डा ऐस के डुबे, विभाग अध्यक्ष डा विकास गर्ग व अन्य प्राध्यापक सम्मालित रहे। अभिनेता करन वाही ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि कठिन परिश्रम व द्रण निश्चय प्रत्येक सफलता की कुंजी होती है। उन्होने कहा भारत युवाओं का देश है इस देश कि सबसी बड़ी ताकत युवाओ कि ऊर्जा है। इस ऊर्जा का सही इस्तेमाल देश के निर्माण मे होना चाहिए ।श्री वाही ने कहा कि विश्व मे प्रतिस्पर्धा का दौर है इस दौर मे आपको हर वक़्त सचेत और गतिशील रहना होता है। उन्होने छात्र-छात्राओं को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि प्रबंधन के छेत्र मे अपार संभावनाएँ है, अवसरो का बोध करना व उसका दोहन करना ही उचित प्रबंधकीय सोच होगी। संस्था की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने मुख्य अतिथि व छात्र-छात्राओं का स्वागत करते हुए कहा कि हम शिक्षा के क्षेत्र मे गुणवत्ता को लेकर काफी सजग है। शिक्षा कि गुणवत्ता के साथ कोई भी समझोता नहीं किया जाएगा। उन्होने कहा कि पिछले कई वर्षो से एक्यूरेट ने परीक्षा परिणाम व प्लेसमेंट को लेकर कई उपलब्धियां हासिल कि है। उन्होने बताया कि हम गत कई वर्षों से 100 प्रतिशत परीक्षा परिणाम प्राप्त कर रहे है तथा प्रत्येक छात्र को उसकी योग्यतानुसार उचित जॉब भी दिलाते रहे है।एक्यूरेट के इस मुकाम के लिए उन्होने सभी प्राध्यापको का धन्यवाद प्रस्तुत किया। संस्था के महानिदेशक डा सरोज कुमार दत्ता ने छात्र छात्राओ से अपने आई आई एम के अनुभवो को साझा किया उन्होने बताया कि देश कि प्रबंधन शिक्षा मे काफी मूलभूत बदलाव लाने कि आवश्यकता है। प्रबंधन शिक्षा का उद्देश्य मात्र जॉब पाना नहीं है अपितु देश कि अर्थव्यवस्था को गतिमान रखने के लिए उद्यमिता को बड़ावा देना है । उन्होने छत्रों से शिक्षा को उद्योग जगत से जोड़कर हासिल करने कि अपील कि। निदेशक डा प्रवीण पचोरी ने नवागंतुक छात्र-छात्राओ को संबोधित करते हुए देश व समाज के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी निभाने को कहा। डा पचौरी ने छत्रों को ‘आउट ऑफ द बॉक्स थिंकिंग’ के प्रति जागरूक करते हुए कहा कि अपनी सोच का दारा बदलो, नई चीचो को स्वीकार करो एवं अपने कम्फर्ट को तोड़ो। उन्होने कहा कि जितनी भी सफलता कि कहानी लिखी गयी है उनके पीछे कठोर परिश्रम व लगन का योगदान ही अति महत्वपूर्ण है। निदेशक-प्रशासन डा ऐस के डुबे ने छत्रों को आने वाली चुनोतियों को सामने करने के गुर सिखाये। उन्होने उद्योग जगत मे सॉफ्ट स्किल्स कि उपियोगिता पर ज़ोर दिया। डा डुबे ने सॉफ्ट स्किल्स कि चर्चा करते हुए कहा कि हम जिंदगी मे बहुत सारे लोगो के साथ डील करते है जिनमे से कुछ कठिन प्रतीत होते है। वास्तव मे ये लोग कठिन नहीं बल्कि भिन्न होते है। विभाध्यक्ष डा विकास गर्ग ने सभी अतिथि व अभिववकों को धन्यवाद प्रस्तुत किया॥